Conversation From Hindi to English-Seeking Career With English

81 / 100 SEO Score

आज मैं आपको इस Conversation Post में सीखाऊँगा कि किस तरह से ” Seeking Career With English” पर दो लोगों के बीच में वार्तालाप किया जाता है । मैं आपको यह बताना चाहता हूँ कि यदि अंग्रेजी बोलने की शुरुआत करना चाहते हैं तो दिए जा रहे ” Conversation” को अच्छे पढ़ें और समझें ताकि इसमें दिए गए शब्दों और वाक्यों को आप आसानी से बोल सकें; चलिए हम आगे बढ़ते हैं और पढ़ना शुरु करते हैं –

conversation from hindi to english
Angreji Masterji

पप्पू : गुड ईवनिंग अरविन्द ! माया दीदी घर पर हैं ? ( Good evening Arvind ! Is Maya Didi at home ? )

अरविन्द : नहीं, पर वह जल्दी ही वापस आ जाएगी । ( No, But she will be right back.)

पप्पू : ओह, मेरी कजिन है शालिनी । ( Oh, this is my cousin, Shalini.) उससे मिलना चाहती थी…….यह वाराणसी से आयी है । ( She wanted to meet her……has come from Varanasi.)

अरविन्द : ऐसी बात है तो तुम लोग थोड़ा इंतजार क्यों नहीं कर लेते । ( In that case why don’t you wait a little bit ? )

पप्पू : ग्रेट आइडिया, अरविन्द ! ( Great idea, Arvind ! ) आपके साथ हमेशा मुझे बहुत मजा आता है । ( I always love your company.)

अरविन्द : थैंक्स ! मुझे भी । ( Thanks ! Same here.)

पप्पू : पता है अरविन्द ? ( You know, Arvind ? ) शालिनी इंग्लिश में एम.ए कर रही है । ( Shalini is pursuing M.A. in English.)

अरविन्द : इंग्लिश लिटरेचर ? ग्रेट ! तुम्हें यह कैसा लगता है, शालिनी ? ( English Literature ? Great ! How do you like it, Shalini ? )

शालिनी : मुझे लिटरेचर हमेशा से ही बहुत पसंद रहा है । ( I was always very fond of literature.) तभी तो मैंने इसे ऑप्ट किया । ( That’s why I opted for it.) पर पता नहीं आगे मैं क्या करुँगी । ( But I don’t know what I would do further.)

Read This Conversation And Learn The English Speaking Skill –

अरविन्द : क्यों कोई कंफ्यूजन है, क्या ? ( Why ? Is there some confusion ? )

शालिनी : नहीं, ऐसी बात नहीं है ( No, it’s not that ) पर मैं बस यह जानना चाहती थी एम.ए. पूरा करने के बाद स्कोप क्या है ? ( But I just wanted to know what scope is there after completing M.A. ? )

अरविन्द : वेल, मेरी समझ में तो टीचिंग सबसे बेहतरीन च्वाइस जान पड़ती है । ( Well, to me, teaching seems the most obvious choice.)

शालिनी : मुझे भी यही लगता है । ( I also think so.) पर उसके लिए क्या एम.फिल. जरुरी होगा ? ( But for that, would M.Phil be necessary ? )

अरविन्द : वेल, हां । ( Well, yes.) यूनिवर्सिटी टीचर के लिए एम.ए. के बाद एम.फिल. या पी.एच.डी. होना चाहिए । ( For a university teacher, M.A. should be followed by M.Phil or Ph.D..)

पप्पू : उसका मतलब, बहुत कड़ी मेहनत; तैयार रहना उसके लिए । ( That’s means a lot of hard work. Be prepared for that.)

शालिनी : ओके, पर अरविन्द, आप तो जानते ही हैं, ( Okay, but Arvind, you know, ) कॉलेजों में इंग्लिश लेक्चरर्स की बहुत ज्यादा पोस्ट्स नहीं होती, है न ? ( There are not too many posts of English lectures in the Colleges, isn’t it ? )

अरविन्द : ठीक कहती हो । ( You are right.) ऐसे केस में कोई एम.ए. के बाद बी.एड. कर सकता है । ( In that case, one can do B.Ed. after M.A.) उससे तमाम स्कूलों और इंटरमीडिएट कॉलेजों में पी.जी. टीचर का जॉब मिल सकता है । ( With that one can get a P.G. teaching job in various schools and intermediate colleges.) 

पप्पू : हां, उससे काफी वाइड च्वॉइस मिल जाएगी……पूरे इंडिया भर में । ( Yeah, that would give quite a wide choice….all over India.)

अरविन्द : सचमुच ! ( Truly ! )

शालिनी : ओके फाइन ! पर अरविन्द, टीचिंग के अलावा भी कोई स्कोप है ? ( Okay fine ! But Arvind, is there any scope other than teaching ? )

अरविन्द : हां बिल्कुल ! काफी हैं ! ( Of course yes ! Plenty ! ) तुम जर्नलिज्म, एडवर्टाइजिंग, पब्लिक रिलेशंस आदि में भी जा सकती हो, एक एडिशनल कोर्स करके । ( You could also go into Journalism, advertising, Public relations etc, with an additional course.)

पप्पू : वंडरफुल ! मुझे ये सब पहले नहीं पता था । ( Wonderful ! I never knew all that.) अब तो इंग्लिश मुझे और भी टेम्पटिंग लग रही है । ( Now, English seems more tempting to me.)

अरविन्द : वह तो ये हैं । ( That it is.) पर बस इतना ही नहीं है । ( But that’s not all.)

पप्पू : माया गॉड ! और क्या है, वैसे ? ( My God ! What else is there, by the way ? )

अरविन्द : सुनो, अगर किसी के पास वाकई मेरिट है,( Listen, if one has real merit,) तो वह आई.ए.एस, पी.सी.एस या दूसरे कॉम्पटीटिव एग्जाम भी सक्सेसफुली अटेम्पट कर सकता है । ( one can also successfully attempt I.A.S., P.C.S. or other competitive exams.)

शालिनी : बहुत ही ल्यूकेटिव जान पड़ता है । ( Sounds pretty lucrative.) पर अरविन्द, यह सब काफी टफ लगता है । ( But Arvind, It all seems quite tough.)

अरविन्द : इसमें कोई शक नहीं । ( No doubt.) पर तुम जानती हो, ( But you know ? ) आजकल करियर बिल्डिंग एक कांशियस अफेयर बन गया है । ( nowadays career building has become a conscious affair.)

पप्पू : बिल्कुल सही, पर इसे करना कैसे चाहिए ? ( Very true. But how should one go about it ? ) 

अरविन्द : सबसे पहले अपने आप को जानना जरुरी है । ( First and foremost it is necessary to know oneself.) अपनी पर्सनैलिटी को एटिट्यूड को, स्किल्स और एबिलिटीज को एसेस करना चाहिए । ( One should assess one’s personality, aptitude, skills and abilities.) उसके आधार पर एक सही करियर चुनना चाहिए और उसके लिए प्लान करना चाहिए । ( On the basis of that, one should pick a proper career and formulate a plan for that.)

शालिनी : ये वाकई ज्ञानवर्धक है इसने मेरी आंखे खोल दीं । ( It is truly enlightening. It has opened my eyes.) थैंक्यू सो मच अरविन्द ! बड़ा अच्छा हुआ मैं आप से मिल गयी । ( Thank you so much, Arvind ! It’s great I met you.)

अरविन्द : थैंक्स ! लो तुम्हारी माया दीदी भी आ गयी । ( Thanks ! Lo your Maya Didi is also back.)

इस Conversation post को पढ़कर कैसा लगा ? यदि इस पोस्ट से आपको थोड़ा भी लाभ हुआ हो; तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें; धन्यवाद !

Read this article after conversation and learn some interesting idioms and phrases For Speaking English

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *