9 English Speaking Topics For Beginners

आज आप इस पोस्ट में जो भी English speaking topics for beginners सीखने जा रहे हैं; ये सभी Topics of English speaking अंग्रेजी बोलना सीखने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैं; इन्हें सीखने के बाद आप इनका प्रयोग बहुत ही आसानी से Daily use English sentences में कर सकते हैं.

अच्छी अंग्रेजी बोलने और लिखने के लिए Tense सीखने के साथ-साथ आप नीचे दिए जा रहे English speaking topics को एक-एक कर सीखें; यदि आप सभी Topics of English speaking को अच्छी तरह से सीख जाते हैं तो आपकी अंग्रेजी बोलने की प्रवाह बढ़ जाएगी.

learn all english speaking topics for beginners
English Speaking Topics For Beginners
  1. Provided – इसका प्रयोग ‘बशर्ते’ के अर्थ में करते हैं
  2. Get / Make – का प्रयोग causative verb के रूप में अंग्रेजी बोलते समय कब और कहाँ करते हैं
  3. Prefer – इसका use वाक्य में एक वस्तु की अपेक्षा दूसरी वस्तु अधिक पसंद करने के भाव में करते हैं.
  4. Bound to – इसका बंधनकारी का अर्थ रखने वाले वाक्य में किया जाता है.
  5. It + is/was + time – समय हो गया है / हो गया था के अर्थ में किया जाता है.
  6. It takes / will take – इसका हिंदी मतलब ‘लगता है / लगेगा’ होता है
  7. Present perfect + since + past indefinite tense का प्रयोग अंग्रेजी बोलने में कैसे करते हैं सीखेंगे
  8. Just as – in the same way – जिस तरह से ठीक उसी तरह से के भाव में करते हैं
  9. What to do / What not to do – इसका हिंदी भाव ‘क्या करुँ / क्या न करुँ होता है

ऊपर दिए गए सभी English speaking topics for beginners को एक-एक कर पढ़ेंगे और ध्यान से सीखेंगे; और इनका प्रयोग बेधड़क अंग्रेजी बोलने करेंगे; आप ऊपर बताए गए सभी Topics of English speaking के Structures और examples को समझें और इनकी मदद से अंग्रेजी बोलने का अभ्यास करें.

आपसे अनुरोध है कि आप एक भी Topic को बिना पढ़े न छोड़ें वरना आप वह नहीं सीख पाएंगे जो अच्छी अंग्रेजी सीखने के लिए उपयोगी है; मैं आशा करता हूँ कि आप इस पोस्ट पर बने रहेंगे मतलब आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ेंगे और सभी Topics को सीखेंगे.

Learn All English Speaking Topics For English Speaking Practice

चलिए सबसे पहले हम English speaking topics में सीखते हैं ‘Use of provided’ अंग्रेजी बोलते समय कब, कहाँ और कैसे करते हैं; नीचे दिए जा रहे स्ट्रक्चर और उदाहरण को ध्यान से पढ़ें; आपको ‘provided’ का प्रयोग बहुत ही आसानी से समझ में आ जाएगा.

Structure : [ First Sentence + provided + Second Sentence ] वाक्य Tense केे अनुसार प्रयोग किया जाएगा; जैसा कि उदाहरण में बताया गया है.

  • मैं अपना खुद का बिजनेस शुरू करुँगा बशर्ते तुम मेरी मदद करो – I will start my own business provided you help me.
  • वह दिल्ली जाएगा बशर्ते तुम उसके साथ जाओ – He will go to Delhi provided you go with him.
  • तुम इस साल परीक्षा में पास हो जाओगे बशर्ते तुम घर पर पढ़ा करो – You will pass in the examination this year provided you study at home.
  • मैं तुमसे मिलने आऊंगा बशर्ते तुम मुझे फोन करो – I will come to meet you provided you call me.
  • वह तुम्हारा इंतजार कर सकता है बशर्ते तुम सही समय पर आने का वादा करो – He can wait for you provided you promise to come on time.

आपको provided का प्रयोग अंग्रेजी बोलने में कैसे करते हैं; अच्छे से समझ में आ गया होगा, है ना? चलिए अब हम सीखते हैं ‘‘Get / Make” का प्रयोग Causative verb के रुप में कैसे करते हैं; स्ट्रक्चर और उदाहरण पर ध्यान दें.

Structure : [ Subject + make / makes / made + object (living things) + verb का पहला रुप + other word ]

  • वह मुझे क्लास में रुलाता है – He makes me weep in the class.
  • मैं उसे तड़के सुबह दौड़ाता हूँ – I make him run early morning.
  • पिता जी ने मुझे घर पर हंसाया – Father made me laugh at home.
  • तुमने उसे क्लास में मुर्ख बनाया – You made him fool in the class.

जब आप Get का प्रयोग causative verb के रुप में कर रहे हों तो Get के बाद आने वाला object हमेशा Non living thing (निर्जीव वस्तु) होगा और क्रिया का तीसरा रुप आएगा; नीचे बताए गए स्ट्रक्चर और उदाहरण को देखें.

Structure : [ Subject + get / gets / got + object (निर्जीव वस्तु) + verb का तीसरा रुप + by + object + other word ]

  • वह मुझसे अपना होमवर्क करवाता है – He gets his homework done by me.
  • मैंने उससे यह पत्र पढ़वाया – I got this letter read by him.
  • माँ कभी-कभी मुझसे खाना बनवाती है – Mother gets food cooked by me sometimes.
  • तुमने उससे यह कार धुलवाया – You got this car washed by him.
  • रवि ने मुझसे यह कमरा साफ करवाया – Ravi got this room cleaned by me.

अब आप Get और Make के बाद English speaking topics में सीखेंगे “Prefer” का प्रयोग अंग्रेजी वाक्य बोलते समय कब, कहाँ और कैसे करते हैं; मैं आपको बताना चाहूंगा कि prefer का प्रयोग एक वस्तु की अपेक्षा दूसरी वस्तु अधिक पसंद करने के sense में करते हैं; की अपेक्षा के अर्थ में ‘to’ का प्रयोग किया जाता है.

Structure : [ Subject + prefer / prefers / prefered + noun / verb + ing + to + noun / verb + ing + other word ]

  • उसे क्रिकेट की अपेक्षा फूटबाल अच्छा लगता है – He prefers football to cricket.
  • मुझे खेलने की अपेक्षा पढ़ना अधिक पसंद है – I prefer studying to playing.
  • तुम्हें हिन्दी की अपेक्षा अंग्रेजी बोलना अधिक पसंद है – You prefer speaking English to Hindi.
  • मुझे लड़कों की अपेक्षा लड़कियां ज्यादा अच्छी लगती हैं – I prefer girls to boys.

मैं आशा करता हूँ कि आपको ऊपर बताए गए सभी English speaking topics अच्छे से समझ में आ गए होंगे और अब आप इनका प्रयोग अंग्रेजी बोलने में बहुत ही आसानी से कर सकते हैं.

Learn Some More Topics Of English Speaking With Examples

अब आप इस English speaking topics में सीखेंगे “Use of bound to”, It + is / was + time, It takes / will take और present perfect + since + past indefinite tense” का प्रयोग अंग्रेजी बोलते और लिखते समय किस तरह से करते हैं? सबसे पहले आप सीखेंगे ‘Bound to’ का प्रयोग.

Structure : [ Subject + is/am/are/was/were + bound to + verb का पहला रुप + object + other word]

  • यह ट्रेन मुंबई के लिए है – This train is bound to Mumbai.
  • उसका इस साल फेल होना निश्चित था – He was bound to fail this year.
  • मेरा उससे मिलना निश्चित है – I am bound to meet him.
  • तुम्हारा इस टीम में खेलना निश्चित है – You are bound to play in this team.
  • उनका इस होटल में रुकना निश्चित था – They were bound to stay at this hotel.

अब आप English speaking topics में सीखेंगे ‘It + is/was + time’ का प्रयोग अंग्रेजी बोलने में कैसे करेंगे; चलिए स्ट्रक्चर और उदाहरण के माध्यम से सीखने का प्रयास करते हैं.

Structure : [ It + is / was + time + for + me / him / you / them etc. + to + verb का पहला रुप + object + other word ]

  • उसका कॉलेज जाने का समय हो गया है – It is time for him to go to college.
  • मेरा अंग्रेजी बोलने का वक्त आ गया है – It is time for me to speak English.
  • तुम्हारा खेलने का समय हो गया था – It was time for you to play.
  • हमारा उनसे मिलने का समय आ गया है – It is time for us to meet them.

अब मैं आपको इस English speaking topics में सीखनेे जा रहा हूँ कि किस तरह से ‘It takes / will take’ का प्रयोग Daily use English speaking sentences में कैसे करते हैं; नीचे बताए गए Structure और examples को समझें.

Structure : [ It + takes / will take / took + me / him / you / her / them etc. + time related word + to + verb का पहला रुप + object + other word ]

  • मुझे इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में पांच साल लग जाएंगे – It will take me five years to complete this project.
  • उसे घर से स्कूल जाने में आधा घंटा लगता है – It takes him half an hour to go to school from home.
  • उन्हें इस बिजनेस को शुरू करने में दस साल लग गये – It took them ten years to start this business.
  • मुझे यह किताब लिखने में बरसों लग गये – It took me many years to write this book.

Structure : [ Present perfect tense + since + past indefinite tense ]

  • मुझे यहाँ आए हुए दस साल हो गए हैं – Ten years have past since I came here.
  • उसे मुझसे बात किए हुए दो दिन हो गए हैं – Two days have past since he talked to me.
  • उन्हें यहाँ आए हुए बहुत साल हो गए हैं – Many years have past since they came here.
  • मुझे उसे देखे हुए दो महीने हो गये हैं – Two months have past since I saw him.

Some More Interesting And Useful English Speaking Usages For Beginners

अब मैं आपको इस English speaking topics में बताऊंगा ‘just as – in the same way’ और ‘what to do / what not to do’ का प्रयोग अंग्रेजी बोलने में कैसे करते हैं?

Structure : [ Just as + first sentence + in the same way + second sentence ]

  • जिस तरह से चिड़ियाँ आकाश में उड़ती हैं ठीक उसी तरह से हम भी उड़ सकते हैं – Just as the birds fly in the sky in the same way we can also do.
  • जिस प्रकार आप अंग्रेजी बोलते हैं ठीक उसी तरह से मैं भी बोल सकता हूँ – Just as you speak English in the same way I can also do.
  • जिस तरह से वह क्रिकेट खेलता है ठीक उसी तरह से तुम भी खेल सकते हो – Just as he plays cricket in the same way you can also do.

Structure : [ W.H. word + (not) + to + verb का पहला रुप + object + other word ]

  • क्या करुँ, क्या न करुँ – What to do, what not to do.
  • क्या खाऊँ, क्या बचाऊँ – What to eat and what to save.
  • कहाँ जाऊँ, क्या करुँ – Where to go and what to do.
  • क्या पढ़ूँ और क्या पढ़ाऊँ – What to study and what to teach.

मुझे उम्मीद है कि आप ऊपर बताए गए सभी English speaking topics को अच्छे से समझ गए होंगे और यही नहीं अब आप इनका प्रयोग अंग्रेजी बोलने में बहुत ही आसानी से कर सकते हैं; यदि आपको Topics of English speaking पोस्ट पढ़ना अच्छा लगा तो इसे शेयर जरूर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *