Read Top 3 Amazing Hindi Poems On Life And Motivate Yourself

आज आप इस पोस्ट में पढ़ेंगे Top 3 Hindi poems on life; सभी Hindi poems for life  इतने असरदार हैं कि इनको सुनने के बाद आपके सोच में परिवर्तन शुरू हो जाता है;आपसे विनती है कि आप सभी Hindi poems of life, को ध्यान से पढ़ें ताकि आपके सोचने के तरीके में निखार आ सके !मुझे उम्मीद है, आप सभी Hindi poems on life को ध्यान से पढ़ेंगे; सुनेंगे और इन सभी Hindi poems about life को अपने जीवन में एक जगह देंगे; जीवन को गहराई से समझेंगे और आगे बढ़ेंगे; यहा दी जा रही सभी poems in Hindi बहुत ही प्रभावकारी और रोचक है; और इन्हें पढ़ने में आपको अच्छा लगेगा.

इन सभी कविताओं को मैंने सिर्फ इसलिए लिखा है ताकि आपको जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित कर सकूँ; अगर आप यहा दी जा रही कविताओं को पढ़कर आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं तो इससे यह तय है कि आप आगे न बढ़ने का समझौता कर बैठे हैं; मैं आपसे आग्रह करना चाहूंगा कि आप आगे बढ़ने के लिए खुद में साहस लाएं और जीतने के लिए एक लम्बी छलांग लगा दीजिए; जीत आपकी पक्की है.

hindi poems on life
Hindi Poems On Life

Read The Most Powerful Hindi Poems On Life And Success –

जब आपका मन यह कहने लगे कि जो तुम कर रहे हो; उसे छोड़ दो और अपने सपने से मुंह मोड़ लो; तो आपको अपने मन के सामने डट कर खड़ा रहना हो और उसे इस बात का ऐहसास कराना होगा कि आप जिस चीज को पाने की जिद्द में लगे हैं; और रात न दिन आप दौड़ बस दौड़ में लगे हैं; आप उस चीज़ को हासिल करने के बाद ही दम लेंगे.

आप खुद को यह समझाने की हर बार कोशिश करते हैं कि आप कभी हार नहीं सकते; और नहीं कभी आप मैदान छोड़कर जाएंगे; लेकिन कभी कभी जिंदगी में कुछ ऐसे पल आ जाते हैं जहाँ आप हार महसूस करते हैं; अगर हार का ऐहसास सिर्फ कुछ पल का है तो आज नहीं तो कल जीत आपकी पक्की है; यदि यही हार का ऐहसास आपके मन की गहराई में बैठे जाए तो आपकी हार पक्की है.

हम सपने को सच करने के लिए रात-रात भर जागकर काम करते हैं; लेकिन थोड़ी सी जीवन में उथल-पुथल की वजह से हमारा आत्मबल टूट जाता है; और हम निराश होकर हालात से समझौता कर लेते हैं कि अब मुझमें जीतने की इच्छा नहीं बची; नीचे दी जा रही Hindi poems about life पढ़े और इस Hindi poems on life की मदद से जीवन के उथल-पुथल में भी चलने का साहस जुटाये.

मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ पाने की दौड़ में लगा हूँ !
खुद को बहुत समझाता हूँ, 
अपनी पीठ खुद थपथपाता हूँ;
मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
रात-रात भर जग कर काम किया हूँ, 
अपने जीवन को सपनों के नाम किया हूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ पाने की दौड़ में लगा हूँ !
मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ; 
ना हिम्मत बचा ना हौसला, 
पर कुछ बनने की जिद्द कर बैठा हूँ, 
पीछे न मुड़ने का कसम खा बैठा हूँ;
खुद को समझाकर आगे और आगे लिए जा रहा हूँ, 
मेहनत पर मेहनत किए जा रहा हूँ;
मन करता है सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
अंधेरे में पड़ा हूँ, 
रोशनी से दूर खड़ा हूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ बनने की दौड़ में लगा हूँ;
मन करता है सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ !

Read Hindi Poems For Life And Motivate Yourself

जब आपका मन हारने लगे तो आप कभी निराश ना हों बल्कि अपने मन को समझाएँ और एक बार फिर अपने मन को काम में लगाएं; यदि आप मन से अपने काम में लगे रहेंगे तो एक न एक दिन आप अपने लक्ष्य को हासिल कर लेंगे; नीचे दी जा रही Hindi poems for life को मन से पढ़ें और इस Hindi poems about life को अपने जीवन में उताारें.

इस कविता को पढ़ने के बाद आप खुद से वादा करेंगे कि जीवन में जितनी भी कठिनाइयाँ आएगी; आप साहस के साथ उन कठिनाइयों का सामना करेंगे और आगे बढ़ेंगे; जो लोग आगे बढ़ने की जिद्द कर बैठते हैं; उन्हें उनके लक्ष्य से भटकाना असंभव नहीं नामुमकिन है.

मेरा भी एक समय था जब मैं निराश होकर अपने सपनों को छोड़ दिया था; सपनों को छोड़ने के बाद मैं एक पल भी चैन से नहीं रह पाया; हर समय मुझे मेरी आत्मा यह समझाती रहती थी कि अगर तू सपने देख सकता है तो तू उन्हें पूरा भी कर सकता है; एक बार फिर कमर कस और मैदान में उतर जा; और तबतक लड़ जबतक तू यह साबित न कर दे कि तू जीतने के लिए पैदा हुआ है.

मुश्किलें रास्ता रोकेंगी पर तुम्हारी नज़र मुश्किलों पर नहीं सिर्फ और सिर्फ जीत पर होनी चाहिए; अगर तुम यह सब करने का साहस रखते हो; तो जीतने की संभावना भी रखते हो; आपको हरा पाना बहुत मुश्किल है. इस Hindi poems on life को पढ़ें आपको आगे बढ़ने का साहस मिलेगा.

जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
खुद को खुद से समझा लें, 
खो रहे हिम्मत को संभाल लें;
डूब रहे जिन्दगी के सूरज को रोक लो, 
निराशा को आशा में बदल लो;
जिन्दगी मिली है, 
इसे गहराई से समझ लो;
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
कुछ न करने के लिए कुछ करो, 
अंधेरे से रोशनी की ओर बढ़ो, 
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो;
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
अपनी ताकत को पहचानो, 
अपने हौसले को मजबूत करो;
कुछ न करने के मन को, 
कुछ करने के लिए तैयार करो;
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो !
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
मन को समझाओ, न समझे, 
उसे अपना गुलाम बना लो;
ना कहने के बाद भी, 
उसे, अपने काम में लगा लो;
अंधेरे से रोशनी की ओर ले चलो,
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो !

One More Interesting Hindi Poems Of Life And Success –

अगर आप कोई सपना देखे हैं या देखने का प्रयास कर रहे हैं तो आपको हमेशा यह बात याद रखनी होगी कि सपने उन्हीं के सच होते हैं जिन्हें अपने सपनों पर विश्वास होता है और वे अपने सपने के लिए दिन-रात प्रयास में लगे रहते हैं; जो जीवन की लडाई में हार मान लेते हैं; वे लाख चाहकर भी अपनी जिन्दगी नहीं संवार पाते; और वे जीवन भर कुछ न कर पाने का रोना रोते रहते हैं;

मेरी हमेशा एक बात याद रखना कि सपने देख लेने भर से सपने सच नहीं होते बल्कि सपने तब पूरे होते हैं जब आप यह ठान लेते हैं कि आप तब तक शांत नहीं बैठने वाले जबतक आपका सपना हकीकत में नहीं बदल जाएगा; मुश्किलें जीवन का दूसरा पहलू है जिससे न कोई बच पाया और नहीं बचेगा; इसलिए आपको यह मानकर मैदान में डटे रहना पड़ेगा कि मुश्किलें आपका रास्ता रोकेंगी पर आप टस से मस नहीं होंगे.

यह बात हमेशा याद रखिए कि आदमी की असली पहचान तब होती है जब उसकी पहचान जीत के साथ जुड़ जाती है; वरना दुनिया में लोगों की भीड़ है जहाँ होने न होने से कोई फर्क नहीं पड़ता है; नीचे दी जा रही Hindi poems of life को मन से पढ़ें और अपने सपनों का पीछा करें.

एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
हारना दूर, झुकने के लिए भी मैं तैयार न था;
पल-पल खुद को याद दिला रहा था, 
ख्वाब को पूरा करने के लिए जोर लगा रहा था;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
रास्ता आसान नहीं था, 
मेरे अन्दर जो सवाल थें, 
उसका कोई जवाब नहीं था;
हर मुश्किल के सामने, 
मेरा ख्वाब बड़ा दिख रहा था;
पल-पल खुद को याद दिला रहा था,
एक नई सुबह फिर होगी, 
डूबते सूरज को जिन्दगी मिल जाएगी;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
खुद को तराश रहा था, 
हौसलों को जगा रहा था, 
हिम्मत जूटा रहा था;
हारना दूर, झुकने के लिए भी मैं तैयार न था;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था ! 

आपनेेेे ऊपर जो भी Hindi poems on life पढ़़ी ये सभी कवितााएँ तभी काम करेंंगी जब आप इन्हें पढ़ेेंगें; समझेेंग और अपने जीवन में उतारेंगे; लोग पढ़ने के लिए ढेर सारी मोटिवेेेशनल किताबें पढ़ डालते हैं पर वे जीत नहीं पाते; जानते ऐसाा क्यों हो ता है? 
वे किताबें पढ़ -पढ़़ कर सूूूूचनाएंं जूटाते है; वे कभी किताबों में लिखी बातों को अमल में नहीं लाते हैं जिसकी वजह से न उनके व्यवहार में अंतर आता है न उनकी आदत बदलती है; और यही वजह है कि वे कभी जीत नहींं पाते हैं; मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी कविताओं को पढ़ेेंगें और अपनेे जीवन ऊतारेेंगे.

दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि आप ऊपर दिए गए सभी  Hindi poems on life, Hindi poetry on life को पढ़ना पसंद आया होगा; यदि आपको सभी Hindi poems of life को पढ़ना अच्छा लगा तो आप इस Hindi poems for life को अपने करीबी दोस्तों और अपने चाहने वालों को शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *