Read Top 3 Amazing Hindi Poems On Life And Motivate Yourself

आज आप इस पोस्ट में पढ़ेंगे top 3 Hindi poems on life; सभी  poems  इतने असरदार हैं कि इनको सुनने के बाद आपके सोच में परिवर्तन शुरू हो जाता है;आपसे विनती है कि आप सभी  top 3 Hindi poems, को ध्यान से पढ़ें ताकि आपके सोचने के तरीके में निखार आ सके !मुझे उम्मीद है, आप सभी Hindi poems on life को ध्यान से पढ़ेंगे; सुनेंगे और इन्हें अपने जीवन में एक जगह देंगे !

hindi poems on life

 Read The Most Powerful Hindi Poems On Life And Success –

मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ पाने की दौड़ में लगा हूँ !
खुद को बहुत समझाता हूँ, 
अपनी पीठ खुद थपथपाता हूँ;
मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
रात-रात भर जग कर काम किया हूँ, 
अपने जीवन को सपनों के नाम किया हूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ पाने की दौड़ में लगा हूँ !
मन करता है, सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ; 
ना हिम्मत बचा ना हौसला, 
पर कुछ बनने की जिद्द कर बैठा हूँ, 
पीछे न मुड़ने का कसम खा बैठा हूँ;
खुद को समझाकर आगे और आगे लिए जा रहा हूँ, 
मेहनत पर मेहनत किए जा रहा हूँ;
मन करता है सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ;
अंधेरे में पड़ा हूँ, 
रोशनी से दूर खड़ा हूँ;
कुछ बनने की होड़ में लगा हूँ, 
कुछ बनने की दौड़ में लगा हूँ;
मन करता है सब छोड़ दूँ, 
अपने सपनों से मुंह मोड़ लूँ !

 Read This Motivational Hindi Poem And Motivate Yourself And Get Success –

जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
खुद को खुद से समझा लें, 
खो रहे हिम्मत को संभाल लें;
डूब रहे जिन्दगी के सूरज को रोक लो, 
निराशा को आशा में बदल लो;
जिन्दगी मिली है, 
इसे गहराई से समझ लो;
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
कुछ न करने के लिए कुछ करो, 
अंधेरे से रोशनी की ओर बढ़ो, 
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो;
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
अपनी ताकत को पहचानो, 
अपने हौसले को मजबूत करो;
कुछ न करने के मन को, 
कुछ करने के लिए तैयार करो;
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो !
जब आपका मन हारने लगे, 
कुछ न करने के लिए कहने लगे;
मन को समझाओ, न समझे, 
उसे अपना गुलाम बना लो;
ना कहने के बाद भी, 
उसे, अपने काम में लगा लो;
अंधेरे से रोशनी की ओर ले चलो,
आगे बढ़ो, आगे बढ़ो, बस आगे बढ़ो !

One More Interesting Hindi Poem On Life And Success –

एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
हारना दूर, झुकने के लिए भी मैं तैयार न था;
पल-पल खुद को याद दिला रहा था, 
ख्वाब को पूरा करने के लिए जोर लगा रहा था;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
रास्ता आसान नहीं था, 
मेरे अन्दर जो सवाल थें, 
उसका कोई जवाब नहीं था;
हर मुश्किल के सामने, 
मेरा ख्वाब बड़ा दिख रहा था;
पल-पल खुद को याद दिला रहा था,
एक नई सुबह फिर होगी, 
डूबते सूरज को जिन्दगी मिल जाएगी;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था;
खुद को तराश रहा था, 
हौसलों को जगा रहा था, 
हिम्मत जूटा रहा था;
हारना दूर, झुकने के लिए भी मैं तैयार न था;
एक ख्वाब लेकर चला था, 
मुश्किलों के साथ खड़ा था ! 

दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि आप ऊपर दिए गए सभी  Hindi poems on life  पढ़ना पसंद आया होगा; यदि आपको सभी  poems  अच्छा लगा तो आप इसे अपने करीबी दोस्तों को शेयर जरूर कर !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *