Study Tips – सफल होने के लिए कब, कितना और कैसे पढ़ाई करें

आज इस पोस्ट में दिए गए Study tips को फॉलो कर आपको आपके सवालों का जवाब मिल जाएगा कि सफल होने के लिए कब, कितना और कैसे पढ़ाई करनी चाहिए;

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि जिस किसी ने इस Study tips का अनुसरण किया; वह सही मायने में पढ़ाई का अर्थ समझ पाए और जीवन में सफल हो पाए.

study tips for students

यदि आप भी इन जैसे लोगों की तरह जीवन में सफल होना चाहते हैं; तो यहां पर इस पोस्ट में बताए गए Study tips को अच्छे से समझे और इसे अपने छात्र जीवन में एक अहम जगह दे; चलिए पोस्ट में आगे बढ़ते हैं; और यहां पर दिए गए Motivational Study tips को अच्छे से समझते हैं.

Best Study Tips – पढ़ाई के लिए सही समय‌ क्या‌ है ?

अगर आप एक स्टूडेंट है तो अक्सर आपके मन में यह सवाल आ ही जाता होगा कि सफल होने के लिए कब, कितना और कैसे पढ़ाई करनी चाहिए ?

चलिए पहले स्टेप की ओर हम आगे बढ़ते हैं; और जानते हैं कि पढ़ाई के लिए सही समय क्या है; अक्सर आप लोगों को यह कहते हुए सुने होंगे कि पढ़ाई के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा है; खासकर सुबह 4:00 बजे से लेकर सुबह 7:00 बजे तक; फिर उसके बाद का समय पढ़ाई के लिए सही नहीं है;

जानते हैं, क्यों ? क्योंकि इसके बाद आपके दिमाग में विचारों की बारिश शुरू हो जाती है – यह करना है या नहीं करना है, अब क्या होगा, उससे मिलना है, उसे फोन करना है, वह नहीं आया, क्रिकेट खेलने जाना है, दोस्तों के घर जाना है, पापा से यह लेना है, मम्मी को यह नहीं बताना है, स्कूल में आज यह होगा, वह कॉलेज नहीं आई, कहां गई;

ऐसे ना जाने कितने विचार हमारे दिमाग को घेर लेते हैं; अब आप ही सोचिए; विचारों से परेशान दिमाग पढ़ाई में लग पाएगा ? नहीं-ना; इसलिए सुबह 4:00 से 7:00 बजे का समय पढ़ाई के लिए सही माना जाता है; क्योंकि इस समय दिमाग बिल्कुल शांत रहता है; आप जहां चाहे; वहां लगा सकते हैं।

यदि आप दिन में, रात में जब चाहे तब पढ़ाई करना चाहते हैं; तो आपको अपने दिमाग को अपने कंट्रोल में लेना होगा; मतलब सब कुछ आपके अपने हाथ में होना चाहिए;

जब चाहे आप अपने दिमाग का इस्तेमाल करें; और जब कोई काम न हो तो अपने दिमाग को बंद रखें; जैसे कोई कार या मशीन जब काम होता है; तभी ये चलती हैं; नहीं तो ये शांत खड़ी रहती हैं; बस आपका दिमाग भी कुछ ऐसा ही होना चाहिए।

best books

यदि आप अपने दिमाग के साथ ऐसा कर पाए; तो फिर देखिएगा; आप जिस किसी भी काम पर लगेंगे; चाहे वह पढ़ाई ही क्यों न हो; उस पर आपका पूरा फोकस रहेगा; और वह काम पूरा हो जाएगा; बशर्ते आपके हांथ में आपके दिमाग के कंट्रोल की चाभी हो।

दिमाग को कंट्रोल करने की चाभी कैसे हासिल करें – Motivational Tips For Study

दिमाग को कंट्रोल करना आसान नहीं है; यह एक ऐसे अभ्यास को करने से कंट्रोल में आता है; जिसे करने से लोग कतराते हैं; लेकिन आप नहीं कतराएंगे;

क्योंकि मैं आपको इस अभ्यास को करने का इतना आसान तरीका बताऊंगा कि आप इस अभ्यास को करने में माहिर हो जाएंगे – इस अभ्यास को Meditation (ध्यान) कहते हैं; मतलब ध्यान लगाने का अभ्यास; इसी अभ्यास में कुशल हो ना ही आपके हाथ में दिमाग को कंट्रोल करने की चाभी का होना कहते हैं।

यह अभ्यास सुनने में जितना आसान लगता है; इसे करना उतना ही कठिन होता है; लेकिन मैं आपको इसे करने का एक आसान तरीका बताऊंगा;

इस अभ्यास को करने से पहले आप यह जान लीजिए; यदि आप इस अभ्यास को पहली बार कर रहे हैं; तो आपके साथ यह समस्या होना तय है; जब आप ध्यान लगाने के लिए अपनी आंखें बंद करेंगे; तो आपके दिमाग में विचारों का उथल-पुथल शुरू हो जाएगा;

याद रखिएगा; इस उथल-पुथल से आप भागना नहीं; बल्कि हर दिन लगातार ध्यान लगाने का अभ्यास करते रहिएगा; क्योंकि जितना अधिक आप ध्यान के अभ्यास में कुशल होते जाएंगे; उतना ही अधिक आपके दिमाग में उठने वाले विचारों के बुलबुले शांत होते जाएंगे।

चलिए मैं आपको पहले दिन से ध्यान लगाने का आसान तरीका बताता हूं; आप पहले दिन 1 मिनट का ध्यान लगाइए; फिर दूसरे दिन 2 मिनट का; तीसरे दिन 3 मिनट का; चौथे दिन 4 मिनट का; इसी तरह से हर दिन एक 1 मिनट बढ़ाते जाइए; वह दिन दूर नहीं –

लगभग 20 से 21 दिन बाद आप ध्यान लगाने के अभ्यास में कुशल हो चुके होंगे; आप 20 से 25 मिनट का ध्यान बहुत आसानी से लगाना शुरु कर देंगे; इस अभ्यास में कुशल होने के बाद दिमाग को कंट्रोल करने की चाभी आपके हाथ में होगी; चलिए अब हम दूसरे स्टेप की ओर चलते हैं –

सफल होने के लिए कितने घंटे पढ़ाई करें – Tips For Students

अगर आप एक स्टूडेंट है; तो अक्सर आपके मन में यह सवाल उठता होगा कि सफल होने के लिए कितने घंटे पढ़ना चाहिए – 10 घंटे 15 या 20 घंटे?

यदि आप इस पोस्ट में बताए गए पहले स्टेप में; मतलब ध्यान लगाने के अभ्यास में कुशल हो जाते हैं; और आपके हाथ में अपने दिमाग को कंट्रोल करने की चाभी आ जाती है; तो आप जिस भी काम को करेंगे; उस पर आपका पूरा फोकस रहेगा;

आपकी 2 घंटे की पढ़ाई भी 10 घंटे के बराबर होगी; तो फिर आप सोचिए – 10 घंटे की पढ़ाई आपको कहां से कहां ले जाएगी; अगर आप 15 से 20 घंटे पढ़ लें; तो सोचिए आपके साथ क्या होगा; नौकरी पाना तो बहुत छोटी बात हो गई;

और सोचिए – सबसे बड़ी बात आप अपने सब्जेक्ट में जीनियस हो जाएंगे; और यही नहीं – आप जैसा चाहेंगे; वैसा जीवन बना लेंगे; जो चाहेंगे; वह हासिल कर लेंगे; क्योंकि आपके दिमाग के कंट्रोल की चाभी आपके हाथ में है!

चलिए अगले स्टेप की ओर चलते हैं; पढ़ाई कैसे करें – सही मायने में पढ़ाई सिर्फ नौकरी के लिए नहीं करनी चाहिए; बल्कि परिवर्तन, आविष्कार मतलब कुछ नया करने के लिए पढ़ना चाहिए; और यही नहीं; जब आप लोगों की समस्याओं को पहचानने और उन्हें दूर करने के लिए पढ़ना शुरू करते हैं; तो आपकी यह पढ़ाई सिर्फ पढ़ाई नहीं रह जाती;

यह एक मिशन बन जाता है; और इस मिशन को सिर्फ वही लोग पूरा करते हैं; जिनका पूरा फोकस अपने काम पर होता है; आप उनमें से एक बन सकते हैं; सिर्फ अपने दिमाग के कंट्रोल की चाभी अपने हाथ में लेकर; इसे कैसे करना है; मैंने आपको पहले ही बता दिया।

मैं आशा करता हूँ कि आपको यहाँ बताए गए सभी‌ Study tips से कुछ न कुछ सीखने‌ को मिला होगा; यदि‌ आप इन सभी Tips For Study को अपने जीवन‌ में एक अहम जगह‌ देते हैं; तो आपका जीवन बदल जाएगा।

पढ़ाई के लिए सही समय क्या‌ है?

पढ़ाई के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा है; खासकर सुबह 4:00 बजे से लेकर सुबह 7:00 बजे तक

दिमाग को शांत करने का आसान तरीका‌ क्या‌ है ?

मेडिटेशन करना; मतलब ध्यान लगाने का अभ्यास; इसी अभ्यास में कुशल होकर आप‌ अपने दिमाग को‌ शांत‌ कर सकते हैं।

सफल होने के लिए कितने घंटे पढ़ाई करें ?

पढ़ने की कोई लिमिट नहीं है; क्योंकि पढ़ाई‌ का जितना‌ अधिक अभ्यास होगा; उतना‌ ही अधिक आपके सफल होने की संभावना होगी।

Leave a Comment