याद रखें; फिजूल खर्ची पर कंट्रोल करना एक महत्वपूर्ण फाइनेंशियल स्किल है; जिसकी मदद से आप अपनी मेहनत की कमाई को बचा सकते हैं और  

अपने फाइनेंशियल लक्ष्यों को हासिल करने के करीब जा सकते हैं; अब चलिए जान लेते हैं कि फिजूल खर्ची पर कंट्रोल करने के लिए छह आसान तरीके कौन से हैं 

पहला तरीका - अपने खर्चों को ट्रैक करें - आपको यह जानना होगा कि आप कहाँ-कहाँ अपने पैसा खर्च कर रहे हैं; यह जानना फिजूलखर्ची पर कंट्रोल करने का पहला स्टेप है। 

आप अपने सभी खर्चों को ट्रैक करने के लिए एक खर्च बही का इस्तेमाल कर सकते हैं या ऑनलाइन फाइनेंसिंग ऐप की मदद ले सकते हैं। 

दूसरा तरीका - एक बजट तैयार करें - यह बजट आपके खर्चों को ट्रैक करने और पैसे को कंट्रोल करने में आपकी मदद कर सकता है; आप अपने बजट में सभी जरूरी खर्चों को शामिल जरूर करें; 

जैसे कि भोजन, आवास, परिवहन और स्वास्थ्य देखभाल; फिर, अगर जरूरत हो; तो अपने बजट में फिटनेस, मनोरंजन और अन्य खर्चों को जगह‌ दें। 

तीसरा तरीका‌ - अपने बजट को फॉलो करें - याद रखें; आपके लिए बजट बनाना आसान काम हो सकता है; लेकिन इसको फॉलो करना आपके लिए थोड़ा मुश्किल होगा; 

इसलिए आप अपने बजट को फॉलो करने के लिए, आप अपने खर्चों को ट्रैक करना जारी रखें और अपने खर्चों को अपने बजट के अंदर रखने की कोशिश करें। 

चौथा तरीका - फिजूल खर्चों को पहचानें - एक बार जब आप अपने खर्चों को ट्रैक करना शुरू कर देते हैं, तो आप उन खर्चों की पहचान करना भी शुरू कर दीजिए;

जो फिजूल हैं; इन खर्चों को कम करने के लिए महत्वपूर्ण स्टेप लें; और उसपर अमल रहें।  पांचवां तरीका - किसी भी चीज़ की खरीदारी करने से पहले सोचें - 

पांचवां तरीका - किसी भी चीज़ की खरीदारी करने से पहले सोचें - जब भी आप कुछ खरीदने के बारे में सोच रहे हों, तो खरीदने से पहले आपको यह सोचना चाहिए कि क्या  

आपको वास्तव में उस चीज़ की जरूरत है या नहीं; अगर आप यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि आपको उस चीज़ की जरूरत है या नहीं, तो आप कुछ दिन इंतजार कर लें और फिर उसके बाद निर्णय लें।